अगर युद्ध हुआ तो कौन सा देश देगा भारत का साथ |दोस्तो वइसे आज के इस युग मे युद्ध का मतलब है पूरे संसार का विनाश मार आज के इस अर्टिकाल मे हम काल्पनिक तौर पर तथ्यों को देखते हुए ये अनुमान लगयेगे की अगर कभी पाकिस्तान से साथ युद्ध होता है तो कोन से देश देगा भारत का साथ । वसे तो कोई भी देश अपने सहयोगी देशों के बल पर कोई भी युद्ध नहीं लड़ता पर अपने सहयोगियों  के साथ को देख कर उस देश के सैनिकों की हौसला चार गुनी बढ़ जाती है जिससे कोई भी देश अगर किसी वैसे देश से टकराना चाहेगा जिसकी मित्र अधिक है तो वह उस देश से टकराने से पहले सौ बार सोचेगा क्योंकि अगर वह उस देश से युद्ध करता है तो उसे सिर्फ उसे उस वही देश को नहीं बल्कि उनकी सहयोगियों को भी पराजित करना होगा जोकि नामुमकिन सा साबित होगा

Bajrangisoch. com


दोस्तों आज हम जानेंगे दुनिया के वह 10 देश जो किसी भी युद्ध की परिस्थिति में भारत का  साथ देंगे|



👉👉 दोस्तों इस लिस्ट में रसिया नंबर वन पर हैं ,वह इसलिए क्योंकि आप इतिहास को पलटे तो बहुत ही नाजुक समय में अगर किसी देश ने भारत का साथ दिया है ,तो वह है रसिया जी हां दोस्तों वैसे तो इन दोनों देशों की कूटनीतिक संबंध बहुत ही मजबूत है, साथ में भारत रसिया से बहुत सारी मिसाइलें, टेक्नोलॉजी का आयात करता है ,जिससे कि इन दोनों देशों के बीच संबंध बहुत ही मजबूत है ,जिसके कारण रसिया हमेशा भारत का साथ देता है और देता रहेगा।


👉👉 दोस्तों भारत का साथ देने वाला दूसरा देश हैं, इजराइल वह इसलिए आप अगर इतिहास को देखें तो अगर कारगिल युद्ध में इजराइल ने हमारी मदद ना की होती तो आज उस युद्ध को जीतना भारत के लिए और भी कठिन हो जाता है, साथ में इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतनयाहू ने यह तक कह दिया कि कोई भी देश अगर भारत से लड़ाई करेगा तो उसे सबसे पहले इजराइल से लड़ना होगा , उसके बाद ही वह भारत से से भिरे और इजराइल की टेक्नोलॉजी के बारे में हम सभी तो जानते ही हैं , साथ में भारत इजराइल से बहुत सारे नए-नए टेक्नोलॉजी नए-नए वेपंस और भी सारे कुछ हमेशा आयात करते रहता है,जिससे कि भारत ओर Israel के बीच का  संबंध बहुत मजबूत हो गया है।



👉👉 दोस्तों हमारे थर्ड नंबर के स्थान पर जो देश है, वह है जापान वह इसलिए क्योंकि जापान और भारत के संबंध बहुत ही अच्छे हैं साथ में जापान और भारत की संस्कृति भी लगभग-लगभग सामान है , जिसके कारण इन दोनों देशों की संबंध बहुत मजबूत है , साथ में यह दोनों देश चीन की बढ़ती ताकत और उसकी बुरी मंसूबों के लिए एक साथ एकजुट होकर खड़े रहते हैं, ताकि कोई भी उनकी देश उनकी मातृभूमि पर नजर ना डाल सके जिससे कि जापान और भारत का बहुत ही मजबूत रिश्ते बन गए हैं और अगर कोई भी युद्ध होता है , तो जापान भारत का साथ देगा|



👉👉 फ्रांस हमारे लिस्ट के चौथे नंबर पर हैं, वह इसलिए क्योंकि हाल ही में कश्मीर मुद्दे को लेकर फ्रांस ने पूरी दुनिया को संकेत दे दिया कि वह भारत के साथ है , और अपने वीटो पावर का इस्तेमाल वह भारत के लिए  किया साथ में हम आपको बता दें कि फ्रांस और भारत की कूटनीतिक संबंध  बहुत मजबूत हो चुकी है और अब भारत और फ्रांस अपने बेहतरीन टेक्नोलॉजी को एक दूसरे के साथ शेयर कर रहे हैं और अपने देशों के विकास में एक साथ मिलकर काम कर रहे हैं।



👉👉 दोस्तों हमारे इस लिस्ट में U S A  पांचवें स्थान पर है परंतु आप सोच रहे होंगे कि यूएसए ने कभी भारत को नाजुक समय में मदद नहीं की है, जहां तक की भारत की मुश्किलें बढंई है, फिर भी वह भारत का साथ अब क्यों देगा तो मैं आपको बता दूं कि भारत जो कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई में आतंकवादियों के लिए यमराज की तरह है, वहीं भारत की इस नीति से यूनाइटेड स्टेट अमेरिका के राष्ट्रपति ट्रंप बहुत ही प्रभावित हुए हैं , साथ में मोदी और ट्रंप की मुलाकाते को देखकर आप अंदाजा लगा सकते हैं कि भारत और अमेरिका के बीच कूटनीतिक संबंध  बहुत मजबूत होते जा रहे हैं , साथ में भारत यूनाइटेड स्टेट ऑफ अमेरिका के लिए बहुत ही बड़ा मार्केट है जिसे वह खोना नहीं चाहता जिसके कारण से वह भारत का साथ दे रहा है और दे देगा।



👉👉 दोस्तों हमारे इस लिस्ट में वियतनाम छठे नंबर पर है , वह इसलिए क्योंकि वियतनाम और भारत के संबंध इन दिनों बहुत ही तेजी से मजबूती की ओर बढ़ रही हैं , इसका मुख्य कारण यही है कि दोनों देश चीन सेनाओं की बढ़ती ताकत एवं बुरी मंसूबों को असफल करने के लिए अपने सेनाओं को पूरी तरह से सशक्त, मजबूत ,ताकतवर बनाने में लगी हुई है जिसमें भारत वियतनाम का पूरी तरह से सहयोग कर रहा है जिसके कारण भारत और वियतनाम के कूटनीतिक संबंध बहुत ही उच्च स्तर पर पहुंच गए हैं जिसके कारण अगर कोई भी युद्ध होता है तो वियतनाम भारत का साथ देगा।


👉👉 युद्ध में भारत का साथ देने वाले देशों  में अफगानिस्तान सातवें नंबर पर है, वह इसलिए क्योंकि अफगानिस्तान अभी अपने विकास के शुरुआती स्थान में है , जिसमें भारत उसकी पूरी मदद कर रहा है चाहे वह व्यापार हो रोडवेज हो, क्रिकेट हो , हर क्षेत्र में भारत अफगानिस्तान का मदद कर रहा है , साथ में भारत और अफगानिस्तान दोनों देश पाकिस्तान की बुरी मंसूबों से परेशान है , जिसके कारण अफगानिस्तान और भारत अपने एक दूसरे देशों के बीच संबंध और भी मजबूत हो गए हैं जिससे कि अगर कोई भी युद्ध होता है तो अफगानिस्तान भारत का ही साथ देगा।


👉👉 ब्रिटेन दोस्तों भारत के मित्र देशों में ब्रिटेन आठवें स्थान में आता है , क्योंकि ब्रिटेन पिछले कुछ समय से भारत की पूरी मदद दे रहा है, वही अगर हम ब्रिटैन और भारत की इतिहास को देखें तो ब्रिटेन भारत पर अत्याचार किया था, साथ में भारतीयों को मूर्ख समझा समझा करता था , लेकिन अब समय बदल गया है अब ब्रिटेन भारत की लोहा को मानने लगा है जिसके कारण भारत ब्रिटेन के बीच संबंध बहुत ही मजबूत हो रही है , और कोई भी युद्ध  होता है तो भारत ब्रिटेन के साथ आएगा और ब्रिटेन भारत का साथ ही देगा।


👉👉 फिलीपींस भारत की मित्र देशों में नौवें स्थान पर आता है, हम आपको बता दें कि भारत और फिलीपींस के बीच बहुत ही मजबूत संबंध है , और बहुत ही पुराना संबंध है इन दोनों के बीच मजबूत संबंध होने का मुख्य कारण चीन सेनाओं की बढ़ती ताकत और उनकी बुरी मंसूबों को अपने देश को बचाने के लिए दोनों देश मिलकर सामना करने के लिए एक दूसरे के साथ संबंध को बेहतर बना लिए हैं ताकि अगर चीनी सेना किसी एक पर भी कोई भी गलत मंसूबों के साथ युद्ध के लिए ललकार ता है तो दोनों सेना एक साथ मिलकर उनका सफाया कर दे ।




👉👉 ईरान भारत के मित्र देशों में दसवें नंबर पर आता है ,हम आपको बता दें कि भारत और ईरान के बीच की संबंध बहुत ही मजबूत है इसका प्रमाण आप इसी से ले सकते हैं कि  अमेरिका के ईरान विरोधी कार्यों में ईरान से तेल लेना बैन कर दिया गया था फिर भी इसके बावजूद भी भारत ने ईरान  से तेल का आयात करना बंद नहीं किया वह प्रतिबंध के बावजूद भी ईरान से तेल ले  लेता है और लेता रहेगा साथ में दोनों देशों के बीच व्यापार का बहुत ही बड़ा समागम है और भारत ईरान की विकास के लिए बहुत सारी फंड देता है और उनकी पूरी तरह से यथासंभव मदद करता है ,जिसके कारण अगर कोई भी युद्ध होता है तो ईरान भारत का साथ देगा।

यह भी जाने।




इस आर्टिकल के संबंध में।

दोस्तों आज के आर्टिकल में आपने जाना कि दुनिया के 10 देश जो अगर कोई युद्ध होता है तो भारत के साथ खड़े होंगे और भारत की यथासंभव तथा पूर्व मदद करेंगे वैसे तो दोस्तों हम आपको बता दें कि कोई भी देश अपने दोस्तों से के भरोसे पर युद्ध नहीं लगा करते हुए स्वयं की ताकत से ही युद्ध लड़ते हैं परंतु दोस्तों का साथ किसी भी देश की सैनिकों का हौसला को बुलंद कर देते हैं और नामुमकिन को भी मुमकिन करने की ताकत उनके शरीर में भर देते हैं जिससे कि वह हारे हुए जन को भी जीत लेते हैं और कहा जाता है कि जिनके अधिक दोस्त होते हैं उनकी ताकत उतनी ही अधिक होती है जैसे कि अगर कोई सिंगल लोहे की रॉड भी को तोड़ा जा सकता है वहीं अगर कोई लकड़ी की गठन हो और गट्ठर को एक बार में तोड़ना किसी एक के लिए नामुमकिन होता है उसी प्रकार जिन देशों का अधिक दोस्त होते हैं उन से टकराने के लिए किसी भी देश को सौ बार सोचना पड़ता है

दोस्तों हम आशा करते हैं कि आपको हमारा आर्टिकल पसंद आया होगा अगर आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आए तो आप हमें कमेंट करके जरूर बताएं साथ में आपको और भी किसी चीज के बारे में जानकारी प्राप्त करनी है तो आप हमें कमेंट करके बताएं कि आपको किस चीज के बारे में जानकारी लेनी है हम उस चीज पर आपके लिए आर्टिकल जरूर पब्लिश करेंगे

          धन्यवाद